Tuesday, 06 March 2018 08:52

नगीना में सफाईकर्मियों ने ठप की सफाई व्यवस्था

Written by
Rate this item
(1 Vote)

nagina cleaning workers

नगीना में नगीना में सोमवार को तीसरे भी बाजार बंद रहा। नगर में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है। प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के लिए सभी स्थानों पर पुलिस पिकेट तैनात कर रखी है। नगरपालिका सफाई कर्मचारी संघ के समस्त सफाई कर्मचारी भाजपा नेता अनूप वाल्मीकि और अनुज वर्मा की रिहाई, दुल्हैंडी का जुलूस निकालने की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचे।

एसडीएम इंद्रजीत सिंह, सीओ नगीना को ज्ञापन देकर दोपहर दो बजे से नगर की सफाई व्यवस्था ठप कर दी। बाद में सभी सफाई कर्मचारी नगरपालिका कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने पालिका ईओ को भी सफाई कार्य ठप होने से अवगत कराया।
समस्त सफाई कर्मचारी वाल्मीकि बस्ती स्थित शिवमंदिर पर एकत्र हुए और वहां से प्रदर्शन करते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचे। एसडीएम को ज्ञापन देकर सफाई कार्य ठप कर दिया। प्रदर्शनकारी अनूप वाल्मीकि, अनुज वर्मा की रिहाई के साथ रंग का जुलूस निकलवाने की मांग कर रहे थे। प्रदर्शन में महेश दारा, करण सिंह राणा, अमरजीत सिंह, अनिल वैध, कपिल, मेमन प्रधान, नौगतराम, ताराचंद, अन्नू वाल्मीकि, ज्ञानचंद, मुकेश, अरविंद आदि शामिल रहे। प्रदर्शन में महिला सफाई कर्मचारी भी भारी संख्या में मौजूद रहीं। रेवेन्यू बार एसोसिएशन ने भी इस मामले में कोई समाधान न होने तक अनिश्चितकालीन हड़ताल का प्रस्ताव पारित करके प्रशासन को भेजा। अधिवक्ताओं ने प्रशासन से जल्द ही इस विवाद को खत्म कराने की मांग की हैं।
रेवेन्यू बार अध्यक्ष सुनील कुमार विश्नोई, महामंत्री सौरभ कौशिक, राजकुमार एडवोकेट ने बताया कि प्रस्ताव की प्रति तहसील प्रशासन, न्यायालय, एसडीएम समेत सभी अफसरों को भेजी गई है। रविवार रात भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव सिसौदिया, आरएसएस के विभाग कार्यवाह मूलचंद त्यागी, संघ के प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सुनील कुमार, भाजपा नेता राजीव अग्रवाल के साथ नगीना में अनुज वर्मा के निवास पर पहुंचे। अनुज के बड़े भाई संजय वर्मा से बात की। इस दौरान भारी संख्या में भाजपा समर्थक और व्यापारी जिलाध्यक्ष से मिले और समस्या का समाधान कराने की मांग की।
प्रशासन ने सुरक्षा के लिए मुख्य मार्गों, धार्मिक स्थलों पर पुलिस बल तैनात किया है। सीसीटीवी कैमरे जगह - जगह लगे हैं। बाजार तीसरे दिन भी बंद रहने से लोग परेशान रहे। सोमवार को साप्ताहिक बंदी है। केवल गली मोहल्लों में ही दुकानें खुली रहीं। वहीं, भारतीय वाल्मीकि धर्म समाज के कार्यकर्ता सोमवार को बिजनौर में डीएम से मिले। डीएम को ज्ञापन देकर पकड़े गए अनूप वाल्मीकि, अनुज वर्मा को रिहा करने की मांग की। कहा कि दोनों को झूठे मामले में फंसाया गया है। दोनों को रिहा नहीं किया तो वह आंदोलन करने को बाध्य होंगे। ज्ञापन देने वालों में चंद्रपाल वाल्मीकि, अरविंद सिंह, राजकुमार, पवन कुमार आदि मौजूद रहे।

Additional Info

Read 899 times Last modified on Tuesday, 06 March 2018 08:57

Leave a comment