anwar jalalpuri

दिवंगत हुए शायर अनवर जलीलपुरी बिजनौर के लिए एक जाना माना नाम रहा। बिजनौर नुमायश के मुशायरे में वे अपना कलाम पेश करने कई बार आए। यहां के लोग उनकी शायरी के दीवाने हैं। वे जीवन भर दो मजहबों में बंटी सगी बहनों हिंदी और उर्दू को मिलाने की कोशिश में लगे रहे।

Published in News

नगीना। विश्व उर्दू दिवस आयोजन समिति, नई दिल्ली द्वारा इस वर्ष आलमी यौम-ए-उर्दू एवार्ड बराये फरोगे उर्दू जबान डा़ शेख नगीनवी को दिया जायेगा। यह घोषणा समिति के संयोजक डा़ सैय्यद अहमद खान ने एक प्रेस विज्ञप्ति में दी। नई दिल्ली में प्रो़ अब्दुल हक की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में इस वर्ष प्रो. जगन्नाथ आजाद, डा़ माजिद देवबंदी, असद रजा, गुलाम मुहम्मद वुस्तानवी (महाराष्ट्र), डा. जफरूल इस्लाम खान, आमिर सलीम बस्तवी, मुहम्मद अबुल फैज (राजस्थान), इसरार उल हक (जयपुर) के अलावा डा़ शेख नगीनवी को आलमी यौम-ए-उर्दू एवार्ड दिये जाने का निर्णय लिया गया है।

Published in News