Wednesday, 15 March 2017 11:30

नगीना में धर्मस्थल पर रंग डालने पर बवाल

Written by
Rate this item
(0 votes)

 nagina bijnor holi dispute

नगीना में दुल्हैंडी पर रंग जुलूस के दौरान हुलियारों द्वारा एक धर्मस्थल पर रंग डालने पर बवाल हो गया। नाराज एक समुदाय के लोगों ने दूसरे समुदाय की दुकानों के शटर तोड़ दिए व उनके धर्मस्थल को क्षति पहुंचाने की कोशिश भी की।


इस घटना को लेकर तनाव व्याप्त हो गया। इस घटना से पुलिस में हड़कंप मचा रहा। आठ लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस ने मस्जिद पर डाले गए रंग पर पुताई कराकर मामला शांत करा दिया। सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षा बलों के साथ पीएसी व पुलिस तैनात कर दी गई है। रिपोर्ट दर्ज होने से लोगों में खलबली मची है।
सोमवार दोपहर करीब एक बजे रंग जुलूस मोहल्ला चौधराना स्थित देवता मंदिर से हवन पूजन के बाद बैंड बाजों के साथ शुरू हुआ। करीब दो बजे जामा मस्जिद से पूर्व जुलूस के आयोजकों ने नमाज का समय होने के कारण जामा मस्जिद से पहले ही जुलूस को रोक लिया। इस दौरान जुलूस में शामिल होने के लिए एक हुलियारों की टोली बाजार गंज स्थित धर्मस्थल के पास पहुंच गई। वहां टोली ने रंग खेलना शुरू कर दिया। इस दौरान हुलियारों में से किसी एक ने धर्मस्थल पर रंग डाल दिया। पुलिस पिकेट द्वारा विरोध करने पर छोटे हाथी पर सवार हुलियारे आगे निकल गए। बाद में भारी पुलिस बल के साथ रंग का जुलूस जामा मस्जिद, बाजार बारादरी, विश्नोई सराय चौराहा, बाजार गंज, मझलैटा, लुहारी सराय, मंडी मौलगंज, गांधी मूर्ति होता हुआ शाम चार बजे रेलवे स्टेशन पर पहुंचकर शांतिपूर्वक संपन्न्न हो गया। शाम को धर्मस्थल के कारी अतीक अहमद, नगर के गणमान्य लोगों प्रभातचंद गुप्ता, राकेश कुमार, सभासद सिद्दीकी मुलतानी, दिग्विजय सिंह, पालिकाध्यक्ष शेख खलीलुर्रहमान की देख रेख में धर्मस्थल पर पुताई होने लगी। इस दौरान एक समुदाय के लोग धर्मस्थल से करीब 200 मीटर की दूरी पर बड़ी संख्या में एकत्र होकर धर्मस्थल पर रंग डालने का विरोध करने लगे। सूचना पर पुलिस ने नगर के गणमान्य लोगों के साथ हस्तक्षेप कर लोगों को वापस जाने के लिए कहा तो लोगों ने विरोध स्वरूप एक दुकान का शटर तोड़ दिया। एक दुकान का ताला तोड़कर लूटने की कोशिश भी की। मोहल्ला पाधान स्थित धर्मस्थल के ताले तोड़कर मूर्तियों को क्षतिग्रस्त करने की कोशिश की गई। इस दौरान हुलियारों की टोली भी लौटते समय वहां पहुंच गई। दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए व पथराव हुआ। पुलिस ने लाठी फटकारकर दोनों पक्षों को खदेड़ दिया। इसी बीच इमाम उवैस अकरम ने लोगों को समझाकर घर भेजा। रात में धर्मस्थल की पुताई करा दी गई। इस घटना से तनाव व्याप्त हो गया। इस दौरान एसपी देहात डा.धर्मवीर सिंह, एडीएम प्रशासन मदन सिंह, सीओ नगीना हरिमोहन सिंह बराबर नगर में चौकसी बरते रहे हैं।
मंगलवार सुबह धर्मस्थल के सचिव अजीत कुमार सोनी ने दूसरे समुदाय के लोगों द्वारा धर्मस्थल का ताला तोड़कर मूर्तियों को क्षतिग्रस्त करने की कोशिश व मोहल्ला कलालान निवासी संगीता व एक अन्य ने नगीना थाना प्रभारी को तहरीर देकर मामला दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। सीओ ने बताया कि पुलिस द्वारा आठ अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। धर्मस्थल के कारी अतीक और रंग जुलूस के आयोजक पूर्व चेयरमैन प्रभातचंद गुप्ता ने दोनों पक्षों को नगर में शांति व्यवस्था बनाने की अपील की। हालांकि क्षेत्र में शांति व्यवस्था के लिए पुलिसबल तैनात है।

Additional Info

Read 268 times Last modified on Wednesday, 15 March 2017 12:04

Leave a comment