Monday, 09 January 2017 10:22

बिजनौर - भाजपा प्रचार सामग्री के साथ 12 लाख रुपये बरामद

Written by
Rate this item
(0 votes)

bjp cars seized

बिजनौर जिले में आचार संहिता लागू होने के बाद पुलिस ने वाहनों की चेकिंग तेज कर दी है। जिले के मंडावर और स्योहारा में पुलिस ने चेकिंग के दौरान वाहनों से करीब 12 लाख रुपये बरामद किए।


पुलिस के मुताबिक मंडावर में कार से बरामद राशि के बारे में ड्राईवर व खुद को व्यापारी का मुनीम बताने वाले दोनों ने यह माल रिकवरी का बताया है। बिल नहीं दिखा पाने पर पुलिस ने यह पैसा सरकारी खजाने में जमा करा दिया है। एक और गाड़ी से पुलिस को भाजपा की प्रचार सामग्री के पंफ्लेट मिले। पंफ्लेट पर किसी प्रिंटिंग प्रेस का नाम व अन्य जानकारी नहीं लिखी थी। प्रचार सामग्री में सपा व बसपा सरकार पर अनेक आरोप लिखे पत्र भी मिले हैं। पुलिस ने पंफ्लेट जब्त करते हुए आरोपी व्यक्ति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। उधर, स्योहारा से पुलिस ने कार से छह लाख रुपये बरामद किए।
रविवार की सुबह उड़न दस्ते के मजिस्ट्रेट सुरेंद्र कुमार, थाना प्रभारी निरीक्षक विमलेश कुमार व चंदक चौकी इंचार्ज सुरेंद्र शर्मा चंदक पुलिस चौकी के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। करीब 12 बजे हरिद्वार की ओर से आई एक कार की चेकिंग की, तो उसकी डिग्गी में नोटों व सिक्कों से भरी बोरी मिली। इससे हड़कंप मच गया। अधिकारियों को भी इसकी सूचना दी गई। बोरी में मिले नोटों की जांच की गई, तो उसमें छह लाख तीन हजार रुपये मिले। इसमें सवा लाख के सिक्के थे। कार में मौजूद दोनों व्यक्तियों ने अपना नाम मुजफ्फरनगर जिले के थाना नई मंडी के गांव गांधीनगर निवासी श्रवण कुमार व थाना कोतवाली के गांव सलेमपुर निवासी अरुण कुमार बताए। श्रवण कुमार ने बताया कि वे दोनों नई बस्ती में मूंगफली व चने की आढ़त करने वाले व्यापारी मोहन कुमार के पास काम करते हैं। वह उनका मुनीम है। रविवार को वे सहारनपुर, रुड़की, हरिद्वार, ज्वालापुर व बिजनौर के भागूवाला क्षेत्र से व्यापारियों से रिकवरी करके लौट रहे थे। सीओ सिटी असित श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने दोनों से बिल दिखाने को कहा, तो वे नहीं दिखा सके। इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए गाड़ी से मिले रुपये सरकारी धन में जमा कर दिए हैं। इस दौरान ही हरिद्वार की ओर से आई एक कार को पुलिस ने रोका, तो उसकी डिग्गी से भाजपा के पंफ्लेट मिले।
पंफ्लेट पर किसी दावेदार या स्थानीय नेता के फोटो नहीं थे। इन पंफ्लेट पर किसी प्रिंटिंग प्रेस का नाम व नंबर अंकित नहीं था। प्रचार सामग्री में सपा व बसपा सरकार पर आरोप लगाने वाले कई पत्र भी शामिल हैं। चंदक चौकी इंचार्ज संजीव शर्मा ने कार स्वामी किरतपुर के थाना औरंगपुरफत्ता निवासी योगेंद्र राजपूत के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना प्रभारी निरीक्षक विमलेश कुमार के अनुसार आचार संहिता का उल्लंघन नहीं होने दिया जाएगा। आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। उधर, वहीं स्योहारा थानाध्यक्ष एसपी शर्मा अपनी पुलिस टीम के साथ वाहन चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान लग्जरी कार को रोका। कार से छह लाख़ हजार नौ हजार रुपये मिले। कार स्वामी कासिम का कहना है वह दिल्ली में फलों का व्यापारी है। स्योहारा ,नजीबाबाद, किरतपुर और बिजनौर वसूली करते हुए काशीपुर भांजी के निशानी में जा रहा था। यह पैसा भी बैंक में जमा करना था। फ्लाईंग स्कॉट मजिस्ट्रेट दीपेंद्र ने बताया कि व्यापारी प्रूफ करता है तो रुपये उसे सौंप दिए जाएंगे ।अन्यथा सरकारी कार्रवाई होगी। पैसे को जब्त कर लिया जाएगा। उधर, हल्दौर में अम्हेड़ा में वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने एक कार से एक 65000 रुपये की नकदी बरामद की है। क्षेत्र के ग्राम खतापुर निवासी पूर्व प्रधान क्षेमेंद्र सिंह अपनी कार से अपने घर जा रहा थे। अम्हेड़ा रेलवे फाटक के निकट वाहन चेकिंग के दौरान शक होने पर पुलिस ने उनकी तलाशी ली। पुलिस ने कार से 65000 रुपये की नई करेंसी बरामद की है। नमें 2000 रुपये के 25 नोट तथा 100 रुपये की 15000 रुपये की राशि बरामद की है। थाना प्रभारी निरीक्षक संजय गर्ग ने बताया कि इस मामले युवक के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

Additional Info

Read 578 times Last modified on Monday, 09 January 2017 10:27

Leave a comment