Thursday, 25 April 2019 09:11

बुधवार को भी बैराज का मरम्मत कार्य नहीं हुआ शुरू

Written by
Rate this item
(2 votes)

bijnor bairaj bridge damaged

बिजनौर। दिल्ली-पौड़ी हाईवे पर गंगा बैराज के क्षतिग्रस्त हुए पुल की सड़क की मरम्मत का मामला एस्टीमेट पास न होने की वजह से अटका पड़ा है। बुधवार को भी मरम्मत के लिए टीम बैराज नहीं पहुंची। दिल्ली से मशीनें भी अभी नहीं पहुंची हैं।

शुक्रवार को दिल्ली-पौड़ी हाईवे पर बैराज के पुल का डेढ़ मीटर हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। इसके बाद सड़क पर भारी वाहनों के प्रवेश पर एक माह के लिए रोक लगा दी गई थी। छोटे वाहनों को धीमी गति से निकाला जा रहा है। सड़क की मरम्मत का एस्टीमेट बनाकर दिल्ली भेजा गया है। एस्टीमेट अभी पास नहीं हुआ है, इस वजह से सड़क की मरम्मत का मामला अधर में लटका हुआ है। सड़क की मरम्मत का काम शुरू न होने से मार्ग से गुजरने वाले लोगों की सांसे अटकी हुई हैं। बुधवार को भी मरम्मत का काम शुरू नहीं हुआ।केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय के मुख्य अभियंता एके श्रीवास्तव के नेतृत्व में एक तकनीकी टीम पुल की सड़क की जांच कर चुकी है। बुधवार को दिल्ली से पुल की मरम्मत के लिए मशीन आने की बात कही गई थी, पर कोई मशीन बैराज पर नहीं आई। ये मशीन दिल्ली और गुरुग्राम से आनी हैं। एसडीएम बृजेश कुमार के मुताबिक कंप्रेशर बुधवार रात पहुंच जाएगा। संभवत: बृहस्पतिवार से पुल पर सड़क की मरम्मत का काम शुरू हो जाएगा।

हर आधे घंटे पर कर दी गई बस सेवा

मंगलवार से उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के बिजनौर डिपो की ओर से गंगा बैराज पुल के छोर तक हर घंटे शुरू हुई रोडवेज बस सेवा को बुधवार को हर आधे घंटे पर कर दिया गया। अफसरों के अनुसार बुधवार को यात्री बढ़ने के कारण यह निर्णय लिया गया है। 19 अप्रैल को बैराज पर गेट संख्या 14 के पास करीब डेढ़ मीटर पुल क्षतिग्रस्त हो गया था। इसके बाद से जिला प्रशासन ने किसी भी प्रकार के जोखिम से बचने के लिए भारी वाहनों पर रोक लगाकर छोटे वाहनों को भी मात्र दस से 15 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से पुल से निकालने के निर्देश दिए थे। इसके बाद से उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के बिजनौर डिपो ने दिल्ली, मेरठ जाने के लिए चांदपुर वाया गजरौला के लिए रूट डायवर्ट कर दिया था। इससे यात्रियों को दोहरी मार पड़ रही थी। एक ओर तो यात्रियों पर किराये के रूप में आर्थिक भार बढ़ गया था तो दूसरी ओर दिल्ली जाने के समय में करीब डेढ़ घंटा अधिक लग रहा था।

23 अप्रैल की सुबह छह से रात आठ बजे तक मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, नोएडा, दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए बिजनौर डिपो ने हर घंटे पर रोडवेज बस सेवा शुरू की थी। इससे पूर्व डग्गामार वाहन संचालकों ने यात्रियों से बैराज पुल तक के 80 से 100 रुपये वसूलने शुरू कर दिए थे। एआरएम विनोद कुमार मौर्य ने बताया कि मंगलवार को यात्रियों की संख्या उम्मीद के अनुसार कुछ कम रही। लेकिन बुधवार को यात्रियों की संख्या बढ़ने से बिजनौर स्टेशन और बैराज पुल के छोर से एक घंटे के बजाए हर आधे घंटे पर कर दिया गया है।

15 गाड़ियों का चालान, चार सीज

सड़क के क्षतिग्रस्त होने का फायदा उठाकर राहगीरों से ज्यादा किराया वसूल रहे गाड़ी चालकों पर भी कार्रवाई की गई। 15 गाड़ियों का चालान किया गया और चार गाड़ियों को सीज किया गया। एसडीएम ने बताया कि यात्रियों की सुविधा के लिए बैराज के दोनों ओर रोडवेज बसों की संख्या और चक्कर बढ़ाए गए हैं।

Additional Info

Read 188 times Last modified on Thursday, 25 April 2019 09:40

Leave a comment