Saturday, 23 October 2021 09:43

मौलवी खलील कासमी अंसारी का अचानक हृदय गति रुकने से इंतेकाल

Written by
Rate this item
(1 Vote)

मौहल्ला छिप्पीपाड़ा निवासी मुफ्ती जलील अंसारी के पुत्र मौलवी खलील कासमी अंसारी( 55 वर्ष) शुक्रवार की सुबह रोजाना की तरह ठीक ठाक उठे और फजर की नमाज घर के सामने ही नाबिनान मस्जिद में नमाज़ पढ़ी,

दोपहर को जुमें की नमाज में दीनी तालीम की तकरीर की उसके बाद जुमे की। वही शाम को असर की नमाज़ पढ़ी। मगरिब की नमाज़ भी नाबिनान मस्जिद में पढ़ रहे थे। जहां तीसरी रकात की नमाज़ में उनकी अचानक हृदय गति रुकने से वह नमाजियों के ऊपर पीछे को गिर गए और देखते ही देखते उनका इंतेकाल हो गया। उनके इंतेकाल की खबर घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। उनके इंतेकाल की खबर मौहल्ले व नगर में पहुंचते ही शोक की लहर दौड़ गई। उन्हें देखने के लिए उनके घर पर नगर के राजनीतिक व समाजिक संगठनों के लोगों एवं उनके मिलने वालों व रिश्तेदारों का तांता लग गया। और सभी ने उनके इंतेकाल पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए।उनकी मखफिरत के लिए दुआ की।

सूत्रों से पता चला है कि उनके बड़े भाई मौलवी खलिक कासमी अंसारी के बाहर होने के कारण। आज शाम असर की नमाज़ के बाद उनके आने पर ही मरहूम खलील कासमी अंसारी को सपूर्देखाक किया जायेगा।

Read 116 times Last modified on Saturday, 23 October 2021 10:04

Leave a comment