Monday, 23 September 2019 13:35

बच्ची की गला काटकर हत्या

Written by
Rate this item
(1 Vote)

girl child killed

किरतपुर। ग्राम चिड़ियापुर में शनिवार को लापता हुई चार वर्षीय बालिका का रक्त रंजित शव रविवार को घर के पास ही स्थित एक घेर से पॉलिथीन में बंद मिला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बालिका की गर्दन रेतकर हत्या की गई है। सीओ ने मौका मुआयना कर पुलिस को शीघ्र खुलासा करने का निर्देश दिया। बिजनौर से आई फोरेंसिक टीम ने खोजी कुत्तों को साथ लेकर घटनास्थल की जांच की।
ग्राम चिड़ियापुर के बबलू की चार वर्षीय पुत्री परी शनिवार अपराह्न करीब चार बजे घर के पास खेल रही थी। उसके अचानक लापता हो जाने पर परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। ग्रामीणों एवं पुलिस ने मिलकर देर रात तक रविवार दोपहर 12 बजे तक घर के आसपास तथा जंगल में खोजबीन की। मगर परी का कहीं पता नहीं चला। रविवार दोपहर करीब एक बजे ग्राम निवासी मास्टर कृष्ण कुमार के घर के निकट स्थित यशवंत त्यागी ने पॉलिथीन की थैली पड़ी देखी। संदेह होने पर उसने मृतका के परिजनों को बुलाकर पॉलिथीन को खोला तो उसमें बच्ची का शव था। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने पॉलिथीन खोलकर देखा तो उसमें बच्ची का रक्तरंजिश शव था। बच्ची की गर्दन रेतकर हत्या की गई थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ महेश कुमार ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। बिजनौर से आई फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल की जांच की। थाना प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार ने बताया कि शव को देखने से उसकी हत्या का कोई स्पष्ट कारण नजर नही आया। पीएम रिपोर्ट के बाद स्पष्ट हो जाएगा।

कहीं और मारकर फेंका गया

ग्राम चिड़ियापुर में बालिका का शव उसके घर के पास ही स्थित एक निर्जन घेर से मिलने से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि बालिका की हत्या कहीं और करके लाश को वहां फेंका गया। पुलिस का मानना है कि बालिका का कत्ल आस-पड़ोस के ही किसी व्यक्ति की करतूत है। मामले की बारीकी से जांच की जा रही है। परी की एक छोटी बहन है। कोई भाई नहीं है। उसका पिता बदायूूं में एक ट्रांसफार्मर फैक्टरी में काम करता है। बालिका के लापता होने की खबर मिलने पर वह शनिवार की रात आ गया था। बच्ची का शव देखकर उसकी मां ममता, दादी नीलो, चाचा अंकुर, अरुण व कमल अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजनों ने बताया कि उनकी किसी से कोई रंजिश नहीं है।

 

खेत में कपड़ों में लिपटी मिली नवजात बच्ची

एक अन्य घटना में, बढ़ापुर-रामजीवाला मार्ग पर स्थित नई कालोनी के समीप एक खेत में एक नवजात बच्ची पड़ी मिली। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और उसको स्वास्थ्य परीक्षण के लिए सीएचसी नगीना ले जाया गया है।

बढ़ापुर-रामजीवाला संपर्क मार्ग पर स्थित नई कालोनी में अधिकांश कस्बे के मोहल्ला नौमी निवासियों ने अपने डेरे व पक्के घर बना रखे है। रविवार भूरे सिंह का नौ वर्षीय पुत्र गोलू खेतों की ओर शौच के लिए गया था। गोलू ने संतराम सिंह के खेत में कपड़े में लिपटी हुई एक नवजात बच्चा देखा। उसने कालोनीवासियों को खेत पर लावारिस पड़े नवजात की जानकारी दी। जानकारी मिलने पर बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे

महिलाओं का अंदाजा था कि नवजात बच्ची की आयु मात्र 2-3 घंटे ही होगी। कालोनी की एक महिला कमलेश देवी बच्ची को खेत से उठाकर अपने घर ले गई। इसी दौरान किसी ने बच्ची मिलने की सूचना पुलिस को दे दी। थाना प्रभारी निरीक्षक कृपाशंकर सक्सेना मामले की जानकारी ली। कस्बा निवासी नंदराम सिंह ने पुलिस के समक्ष बच्ची को गोद लेने की इच्छा जतायी। पुलिस ने प्रथम दृष्टया बच्ची को स्वास्थ्य परीक्षण को सीएचसी नगीना पहुंचाया। नंदराम सिंह भी पुलिस के साथ नवजात का स्वास्थ्य परीक्षण कराने सीएचसी गये। नवजात को लेकर लोग तरह तरह की चर्चा कर रहे है।

Additional Info

Read 134 times Last modified on Monday, 23 September 2019 13:42

Leave a comment